स्कूल चलो अभियान को ठेंगा दिखता ये सरकारी विद्यालय

0
55
खबर-मनोज कुमार शिवहरे

जालौन-रामपुरा विकास खण्ड क्षेत्र की बीहड़ पट्टी में बसे ग्राम मिर्जापुर-जागीर में स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय की शिक्षा ब्यवस्था तो भगवान भरोसे ही संचालित हो रही है विद्यालय का यह आलम है परिसर के अंदर घास और कचड़ा फैला हुआ जिससे ऐसा लगता है कि विद्यालय परिसर के अंदर की साफ-सफाई महीनों से नहीं की गयी हो।इस विद्यालय में शिक्षा के नाम पर छोटे-छोटे बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है।
रामपुरा विकास खण्ड के नादिया पार की ग्राम पंचायत मिर्जापुरा जागीर में प्राईमरी के मास्टरो के द्वारा चलाया जा रहा है। पूर्व माध्यमिक विद्यालय मिर्जापुरा-जागीर में सरीता चौधरी ने 19 मई को पदभार ग्रहण किया था उस दिन के बाद से सरिता चौधरी एक भी दिन विद्यालय नहीं आई और 15 दिन का तुरंत मेडीकल ले लिया अब तो मेडीकल का भी समय खत्म होने के बाद भी विद्यालय आना मुनासिब नहीं समझ रही है। जिसकी बजह से विद्यालय आने वाले बच्चों का भविष्य अधर में लटका हुआ दिखाई दे रहा है। गांव के लोगों ने शिक्षा विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों व क्षेत्रीय प्रशासन से मांग की है कि विद्यालय की शिक्षा ब्यवस्था में सुधार लाने के लिए विद्यालय में नियमित शिक्षकों की ब्यवस्था की जाये जिससे विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों के भविष्य को संभाला जा सके

Loading...