सत्ता में आने पर जल शक्ति मंत्रालय का करेंगे गठन : मोदी

0
79

मिर्जापुर |समाजवादी पार्टी -बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस पर कार्यकताओं की उपेक्षा किये जाने का आरोप लगाते हुये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भाजपा की सरकार दोबारा सत्ता में आने पर देश में पानी की किल्लत को दूर करने के लिये जल शक्ति मंत्रालय का गठन किया जायेगा।अपना दल उम्मीदवार अनुप्रिया पटेल के समर्थन में आयोजित एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुये श्री मोदी ने गुरूवार को कहा कि उनकी सरकार ने अपने पांच सालों के कार्यकाल में महिलाओं के सम्मान की रक्षा के लिए शौचालयों का निर्माण किया। इस बार भाजपा सरकार के सत्ता में आने पर पानी पर काम होगा। इसके लिये अलग से जल शक्ति मंत्रालय बनेगा।

उन्होने कहा कि डा राममनोहर लोहिया के नाम पर समाजवादी बने लोगों ने महिलाओं की सबसे बड़ी समस्या शौचालय और पानी की चिंता नहीं की जबकि डा लोहिया इसे महिलाओं की सबसे बड़ी समस्या मानते थे। धन वैभव से सम्पन्न सपा बसपा और कांग्रेस के लिये वोटर एक जागीर के समान है।  मोदी ने कहा कि गरीब और परेशान जनता को जाति और संप्रदाय के नाम पर बांटने वाले ये दल अपने कार्यकर्ताओं को भी रिमोट का खिलौना समझते हैं। चाहे कार्यकर्ता अपमानित महसूस करे, चाहे उसका हौसला टूट जाए, इन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता। ये प्रदेश की जनता को गलत समझ रहे हैं और इसका परिणाम उन्हे 23 मई को मिल जायेगा।

  • वोटरों को जागीर समझते है सपा – बसपा
  • सत्ता वापसी पर होगा जल शक्ति मंत्रालय का गठन
Loading...