NEWS KRANTI
Latest hindi News Website

- Advertisement -

एसडीएम ने सुबह अपने कार्यालय से गैरहाजिर रहने वाले अधिकारियों से मांगा जवाब

2
खबर-मनोज कुमार शिवहरे

- Advertisement -

उरई (जालौन)-एसडीएम ने अपनी मंशा जाहिर करते हुए प्रशासनिक अमले में आमूल परिवर्तन के लिए कमर कस ली है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के उस फरमान के बाद कि सुबह 9 बजे सभी अधिकारियों को अपने कार्यालय में उपस्थित रहना अनिवार्य है,का आदेश होने के बाद भी अधिकारी अपने कार्यालय में 9 बजे तो छोड़िए 11 बजे तक उपस्थित नहीं होते हैं। जिसको लेकर एसडीएम ने कड़ा रुख अख्तियार करते हुए ऐसे सभी अनुपस्थित अधिकारियों से जवाब तलब कर लिया है। विदित हो कि मुख्यमंत्री के आदेश के बाद भी आधा दर्जन तहसील स्तरीय अधिकारी अपने कार्यालय से गैरहाजिर थे। जिसकी खबर सर्कल ऐप पर प्रकाशित होने के बाद एसडीएम मनोज सागर ने खबर का संज्ञान लेते हुए सभी गैरहाजिर अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगा है। दिनांक 28 जून को आंगनवाड़ी कार्यालय, नगर पंचायत कार्यालय, खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय, खंड विकास अधिकारी कार्यालय, पशु अस्पताल और विद्युत एसडीओ कार्यालय में कोई भी अधिकारी 9 बजे तो छोड़िए 11 बजे तक उपस्थित नहीं थे। जिसको लेकर एसडीएम ने तीखे तेवर अपनाते हुए सभी जिम्मेदार अधिकारियों को पत्र भेजकर स्पष्टीकरण मांगा है। एसडीएम उन सभी अधिकारियों के खिलाफ भी कार्यवाही करने की बात कह रहे हैं जो अधिकारी तहसील स्तर पर निवास न बनाकर जिला मुख्यालय पर रहते हैं। इसके साथ ही एसडीएम मनोज सागर ने तहसील में तकरीबन 25 लाख रुपये की लागत से लगाए गए सोलर प्लांट में गड़बड़ी होने के मामले में भी संबंधित फर्म को पत्र जारी कर कार्रवाई करने की बात कही है। एसडीएम मनोज सागर इसके पहले भी नगर पंचायतों द्वारा आधे अधूरे नालों की सफाई के मामले में जवाब मांग चुके हैं।

Loading...

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.