एक बार फिर बढ़ सकती है आज़म खान की मुस्किले,चुनाव आयोग ने मांगी भाषण की रिपोर्ट,

0
52

तीन दिन के बैन के बाद सपा नेता आजम खान ने शुक्रवार को मुराबाद में रैली की, लेकिन उनकी यह रैली विवादों के घेरे में आ गई. इस रैली के बाद आजम खान की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं. चुनाव आयोग ने उनकी मुरादाबाद रैली के भाषण की फुटेज मांगी है कि कहीं उन्होंने फिर से धर्म के आधार पर वोट तो नहीं मांगे. निर्वाचन अधिकारी ने उनके भाषण का वीडियो और ट्रांसक्रिप्ट आयोग को उपलब्ध कराई है.

बता दे कि

अभी कुछ ही दिनों पहले आज़म खान ने जया प्रदा का नाम लिए बगैर आजम ने जनसभा में मौजूद लोगों से पूछा, ‘क्या राजनीति इतनी गिर जाएगी कि 10 साल जिसने रामपुर वालों का खून पिया, जिसे उंगली पकड़कर हम रामपुर में लेकर आए, उसने हमारे ऊपर क्या-क्या इल्जाम नहीं लगाए। क्या आप उसे वोट देंगे?’ आजम ने आगे कहा कि आपने 10 साल जिनसे अपना प्रतिनिधित्व कराया, उसकी असलियत समझने में आपको 17 साल लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का अंडरवेअर खाकी रंग का है।’

Loading...