हैदराबाद में एक कार्यक्रम के दौरान एआईएमआईएम के अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के कार्यक्रम में हिस्सा लेने पर कांग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस खत्म हो गई है। जो शख्स 50 सालों तक कांग्रेस में रहा और फिर देश का राष्ट्रपति रहा हो वह आरएसएस के मुख्यालय पहुंच गया, क्या अब भी आप लोग इस पार्टी (कांग्रेस) से उम्मीद करते हैं।’

ओवैसी ने बीजेपी खासकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि देश में नफरतें बढ़ रही है। ओवैसी ने कहा, ‘हमारे देश में मुस्लिमों की गाय के नाम पर हत्या की जा रही है। पिछले चार साल में जब से मोदी पीएम बने हैं गाय के नाम पर हत्या हो रही है। 24 प्रतिशत सांप्रदायिक दंगों में बढ़ोतरी हुई है। देश में नफरत का माहौल भरा जा रहा है।’ ओवैसी की पार्टी आंध्र प्रदेश में काफी सक्रिय रही है और वह अल्पसंख्यक के उत्थान का दावा कर राजनीति करती रही है।

7 जून को पूर्व राष्ट्रपति आरएसएस के मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे थे। उनके जाने के फैसले पर कांग्रेस नेताओं ने ही कई बयान दिए थे और उनसे फिर विचार करने की अपील की थी लेकिन डॉ. प्रणब मुखर्जी ने अपने कार्यक्रम में कोई बदलाव नहीं किया।

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा था कि हमारे राष्ट्र को धर्म, हठधर्मिता या असहिष्णुता के माध्यम से परिभाषित करने का कोई भी प्रयास केवल हमारे अस्तित्व को ही कमजोर करेगा। साथ ही प्रणब मुखर्जी ने संघ के संस्थापक डॉ. हेडगेवार के बारे में विजिटर डायरी में लिखा कि वह भारत माता के महान सपूत थे।