खूंटी : झारखंड की राजधानी रांची से सटे खूंटी जिले में एक एनजीओ की पांच कार्यकर्ताओं का अपहरण कर बंदूक की नोंक पर सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक पादरी समेत 12 लोगों को हिरासत में लिया गया है. इन सभी लोगों से पुलिस पूछताछ कर रही है. वहीं, राष्ट्रीय महिला आयोग ने झारखंड के पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखकर पूरे मामले की विस्तृत रिपोर्ट देने के लिए कहा है. आयोग ने मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय टीम का गठन किया है. कहा है कि यह टीम पूरे मामले की जांच करेगी और उसके आधार पर अपनी सिफारिशें देगी.

ज्ञात हो कि खूंटी जिले के अड़की प्रखंड में कोचांग में पांच युवतियों से कथित पत्थलगड़ी समर्थकों द्वारा बंदूक की नोंक पर जंगल में लेजाकर गैंगरेप का मामला सामने आया था. ये सभी स्वयंसेवी संस्था से जुड़ी थीं और मानव तस्करी के खिलाफ जनजागरूकता अभियान चलाने के लिए नुक्कड़ नाटक करने यहां आयी थीं. कथित तौर पर पत्थलगड़ी समर्थकों ने उनका अपहरण कर उनके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया. उनके दल के पुरुष सदस्यों के साथ मारपीट भी की गयी थी.