सावन सोमवार में हर दिन का होता है विशेष महत्व, जानिए

0
675

सावन श्रवण के महीने में सोमवार के व्र​त का विशेष महत्व होता है। जो लोग सालभर सोमवार का व्रत नहीं रखते, वे भी श्रद्धा के साथ सावन सोमवार के व्रत रखते हैं। माना जाता है कि सावन मास शिव जी को बेहद पसंद है। इस माह में सोमवार का व्रत करने से सभी इच्छाएं पूर्ण होती हैं और सालभर के सोमवार का व्रत रहने का पुण्य प्राप्त होता है।

इस बार सावन आज यानी 10 जुलाई से शुरू होकर 7 अगस्त तक चलेगा। इस पूरे मास में पांच सोमवार पड़ेंगे।

 

पहला सोमवार

सावन के पहले सोमवार को शिव की पूजा अर्चना करने और व्रत रखने से अड़चनें दूर होती हैं। बिगड़े हुए काम बनने शुरू हो जाते हैं और अधूरी योजनाएं पूरी होती हैं। किसी नए काम की शुरुआत इस दिन से करना बेहद शुभ माना जाता है।

 

दूसरा सोमवार

दूसरा सोमवार विशेष फलदायक माना जाता है। इस दिन भोलेनाथ को बेलपत्र, धतूरा, भांग, शहद आदि अर्पित कर विशेष पूजन करें। इससे परिवार की स्वास्थ्य समस्याएं दूर होती हैं।

 

तीसरा सोमवार

विशेष साधना और सिद्धियों के लिहाज से तीसरा सोमवार सबसे उत्तम है। इस दिन शिव मंत्रों का जाप आदि करके उन्हें सिद्ध किया जा सकता है। इस दिन भगवान शिव की साधना से कठिन से कठिन काम भी आसान हो जाते हैं।

 

चौथा और पांचवा सोमवार

शास्त्रों के अनुसार इसे सर्वोत्तम माना गया है। इस दिन शिव पूजन करने से शत्रु परास्त होते हैं। सभी बाधाएं समाप्त होती हैं। आने वाले संकट टल जाते हैं। पारिवारिक जीवन सुखमय रहता है और आर्थिक परेशानियां दूर होती हैं।

 

Loading...