रक्षा मंत्रालय ने सेना अधिकारियों समेत सभी सुरक्षा कर्मियों को चीन से सतर्क रहने का आदेश दिया है. इसी कड़ी में मंत्रालय ने जासूसी से बचने के लिए सभी अधिकारियों और सुरक्षा कर्मियों को 42 चीनी ऐप अपने मोबाइल और कंप्यूटर से हटाने का आदेश दिया है. इसमें कई पॉपुलर ऐप के नाम शामिल हैं जो आमतौर पर भारत में इस्तेमाल किए जाते हैं.

एक ख़बर के मुताबिक लिस्ट में Mi Store, We Chat का नाम शामिल है. Mi Store आमतौर पर शियोमी के मोबाइल में पाया जाता है. वहीं We Chat मैसेजिंग का काफी मशहूर ऐप है जो चीनी कंपनी द्वारा निर्मित है. लिस्ट में Share it और Truecaller का नाम भी शामिल है.

ख़बरों की मानें तो हालांकि Truecaller स्वीडन निर्मित मोबाइल ऐप है, लेकिन रक्षा मंत्रालय द्वारा जारी नोटिस में इस ऐप का नाम भी शामिल है. इस पर कंपनी का कहना है कि उनकी ऐप मैलवेयर नहीं है. वह जांच करेगी कि उनकी ऐप का नाम इस सूची में क्यों शामिल किया गया है?.

कौन सी ऐप का नाम शामिल है नोटिस में

रक्षा मंत्रालय द्वारा जारी नोटिस के दूसरे पेज में 42 ऐप का नाम शामिल है. जिसकी शुरूआत में We Chat, Weibo, ShareiT, Truecaller, UC News, UC Browser का नाम है. इसके साथ Mi Store, Mi Community, Mi Video call-Xiaomi भी हैं. भारत में सबसे ज्यादा मशहूर चीन निर्मित UC Browser भी शामिल है. चीता मोबाइल का क्लीन मास्टर भी इस नोटिस की खतरे की सूची में शामिल है.