यूपी के संत कबीर नगर के खलीलाबाद अप रेलवे ट्रैक किनारे मंगलवार सुबह विस्फोट होने से एक व्यक्ति घायल हो गया। सुबह करीब साढ़े आठ बजे कबाड़ उठा रहे नेपाली युवक राजीव थापा के हाथ में एक बम फट गया। घायलावस्था में उसे जिला अस्पताल पहुंचाया गया जहां चिकित्सकों ने हालत गम्भीर देख मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया और इसकी सूचना पुलिस को दी। 

बम की सूचना के बाद जिले की पुलिस हरकत में आई। घण्टे भर की तलाश के बाद रेलवे ट्रैक के किनारे तीन जिन्दा सुतली बम मिले। पुलिस ने जगह को घेर कर मामले की सूचना उच्चाधिकारियों को दिया। मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक हीरालाल ने बम निरोधक दस्ते को जांच के लिए बुलाया। 

बम सूचना पर आधे घण्टे तक रेल यातायात प्रभावित हुआ। वैशाली एक्सप्रेस ट्रेन को खलीलाबाद स्टेशन पर रोक दिया गया। वहीं बम की सूचना से जिले में सनसनी फैल गई। हर कोई मौके पर पहुंचकर मामले की जानकारी लेने में जुटा रहा।

मालूम हो कि बीते कुछ महीनों में भारतीय रेलवे निशाने पर रही है। इस महीने के शुरूआत में मध्य प्रदेश में ट्रेन में ब्लास्ट हो चुका है। इसके अलावा सुलतानपुर में रेडियो बम से हुए विस्फोट में तीन लोग घायल हो गए थे। वहीं, लखनऊ में भी टिफिन में पांच बम मिले थे। इन्हें विस्फोट से पहले निष्क्रिय कर दिया गया था। 

बता दें कि कुछ दिनों पहले वाराणसी के मिर्जामुराद बाजार में धमकी भरे चार पर्चे मिले थे। इस पर्चे में आईएसआईएस पाकिस्तान जिंदाबाद भी लिखा गया था। वहीं, 24 मार्च को पूर्वांचल में तबाही की बात भी की गई थी। 

आगरा में भी हुए थे धमाके

यूपी के आगरा में 18 मार्च की सुबह दो धमाके हुए थे। एक धमाका आगरा कैंट रेलवे स्टेशन के पास कूड़े के ढेर में हुआ था और दूसरा प्लम्बर के घर में हुआ था। इसके अलावा दो दिन पहले ताज महल पर आत्मघाती हमले की धमकी भी दी गई थी।