अमेरिका के न्यूयॉर्क में बस टर्मिनल के पास सोमवार को हुए आतंकी हमले से ठीक पहले आरोपी हमलावर ने फेसबुक पर पोस्ट डालकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को चेतावनी दी थी।

मंगलवार को संघीय अभियोजकों ने आरोप दायर करते वक्त अकायद उल्लाह के द्वारा डाले गए पोस्ट का खुलासा किया।

फेसबुक पोस्ट में लिखा गया था, ‘ट्रंप आप अपने देश की रक्षा करने में असफल रहे।’

27 साल के बांग्लादेशी अकायद उल्ला ने अमेरिका से सबसे बड़े और व्यस्त बस टर्मिनल के पास शरीर पर पाइप बम और तारों को बांधकर विस्फोट किया था, इसके कारण उस पर पांच संघीय आतंकी संबंधी और तीन राज्य संबंधी आरोप दर्ज किए गए हैं।

एक इंटरव्यू में उल्ला ने कबूला है कि उसने इस्लामिक स्टेट (आईएस) के समर्थन से यह धमाका किया है। उसने कहा, ‘मैंने यह इस्लामिक स्टेट के लिेए किया है।’

न्यूयॉर्क पुलिस विभाग ने ट्वीटर पर लिखा, ‘अकायद उल्लाह के खिलाफ हथियार रखने, आतंकवादी गतिविधियों को समर्थन देने और आतंकी धमकी देने का आरोप लगाया है।’

आरोपी अकायद उल्ला पिछले सात साल अमेरिका में रह रहा था। सोमवार को असमय बम फटने के कारण वह गंभीर रूप से घायल हो गया था, अभी उसका इलाज अस्पताल में किया जा रहा है।

शिकायत में कहा गया है कि उल्लाह का आईएसआईएस के तरफ झुकाव 2014 में शुरू हो गया था। उसने एक साल पहले विस्फोटक बनाने की प्रक्रिया पर रिसर्च शुरू किया था।

साथ ही यह भी कहा गया है कि अभी दो-तीन सप्ताह पहले से उसने इसके लिए जरूरी सामानों को इकट्ठा करना शुरू किया और लगभग एक सप्ताह पहले ही अपने घर में बम को तैयार किया था।