नेपाल की राजधानी स्थित त्रिभुवन अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे (टीआईए) पर सोमवार को यूएस-बांग्ला एयरलाइंस का एक विमान लैंडिंग के वक्त दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिससे इसमें सवार 49 लोगों की मौत हो गई और 23 अन्य घायल हो गए।

विमान में 71 लोग सवार थे। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। राहत एवं बचाव अभियान में शामिल टीआईए के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी बिश्वो राज पोखारेल ने समाचार एजेंसी सिन्हुआ को बताया, ‘घटना में 49 लोग मारे गए हैं। अभी हम बचाव अभियान में लगे हुए हैं।’

टीआईए के प्रवक्ता प्रेमनाथ ठाकुर ने कहा, ’78 सीटों वाला बम्बार्डियर डैश 8 विमान अपराह्न् 2:20 मिनट पर लैंडिंग के दौरान संतुलन बिगड़ने से दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिसके बाद इसमें आग लग गई।’ दुर्घटनास्थल पर विमान से निकलने वाला काला धुआं छा गया। प्रशासन ने हवाईअड्डे को तुरंत बंद करने का आदेश दिया। हवाईअड्डे को बाद में खोला गया।

नेपाल के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण के निदेशक संजीव गौतम ने कहा कि रनवे पर उतरने के दौरान विमान का संतुलन बिगड़ गया। गौतम के अनुसार, ‘विमान को हवाईअड्डे के दक्षिणी हिस्से में उतरने की इजाजत दी गई थी लेकिन यह उत्तर की ओर से उतरा। विमान में तकनीकी खराबी हो सकती है।’

उन्होंने कहा, ‘हमें अभी इस असामान्य लैंडिंग के कारणों की जानकारी नहीं है।’

एक रिपोर्ट के अनुसार, घटना की तस्वीरों व वीडियो में हवाईअड्डे के रनवे पर अत्यधिक धुआं उठता नजर आ रहा था। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि विमान रनवे पर मुड़ने के दौरान हादसे का शिकार हो गया।

हादसे में बाल-बाल बचे एक नेपाली ट्रेवल एजेंट बसांता बोहोरा ने अस्पताल में काठमांडू पोस्ट को बताया, ‘अचानक विमान तेज गति से हिलने लगा और चीख-पुकार मच गई। मैं खिड़की के नजदीक बैठा था और खिड़की तोड़ने में सफल रहा। मैं सौभाग्यशाली हूं कि मैं बच गया।’

नेपाल के प्रधानमंत्री के.पी.ओली ने मृतकों के प्रति अपनी संवेदनाएं पेश करते हुए कहा, ‘मैं दुर्घटना की खबर सुनकर बेहद दुखी हूं।’ उन्होंने घटना की तत्काल सरकारी जांच करवाने के आदेश दिए।

अधिकारियों के अनुसार, विमान पर 33 नेपाली यात्री सवार थे। यूएस-बांग्ला एयरलाइन बांग्लादेश की एक निजी एयरलाइन है जिसका मुख्यालय ढाका में है।