टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने एक सराहनीय कदम उठाने का फैसला किया है. गंभीर ने हाल ही में छत्तीसगढ़ सुकमा नक्सली हमले में शहीद हुए 25 सीआरपीएफ जवानों के बच्चों का खर्च उठाने की बात कही है. उन्होंने कहा है कि वो सुकमा हमले के सभी 25 शहीदों के बच्चों की शिक्षा से जुड़े सारे खर्च उठाएंगे.

एक खबर के मुताबिक, गंभीर अपनी गौतम गंभीर फाउंडेशन के जरिए मदद पहुंचाएंगे. आईपीएल में केकेआर के मौजूदा कप्तान ने कहा कि वो इस हमले और न्यूज पेपर में छपी शहीदों के बच्चों की तस्वीर देख पूरी तरह से खोखला महसूस कर रहे हैं.

उन्होंने कहा, बुधवार की सुबह मैंने न्यूजपेपर उठाया और हाल ही में नक्सली हमले में शहीद हुए 2 सीआरपीएफ जवानों की बेटियों की बेहद भावुक करने वाली तस्वीर देखी. एक तस्वीर में जहां बेटी अपने शहीद पिता को सैल्यूट कर रही है, तो वहीं दूसरी तस्वीर में एक बेटी पिता की मौत पर बुरी तरह आंसू बहा रही है. गौतम गंभीर फाउंडेशन इन शहीदों के बच्चों का पूरा शिक्षा खर्च उठाएगा. मेरी टीम ने इस पर काम करना शुरू कर दिया है और जल्द ही हम प्रोग्रेस साझा करेंगे.

इससे पहले बुधवार को पुणे सुपरजाइंट्स के खिलाफ खेले गए मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाड़ियों ने शहीद सीआरपीएफ जवानों के सम्मान में अपनी बांह पर काला बैंड पहना था.