कानपुर:टेनरियों की बिजली काटने पहुंची टीमों पर संचालको ने हाइवे जाम कर किया पथराव

0
63

कानपुर-चकेरी के जाजमऊ में जिलाधिकारी के आदेश पर गुरुवार को टेनरियों के विधुत कनेक्शन काटे जाने थे। कनेक्शन काटने के लिए केस्को की पांच टीमें एसीएम दो बीके पटेल संग जाजमऊ चौकी पहुंची थीं। कनेक्शन काटे जाने की भनक लगते ही टेनरी संचालकों और उनके कर्मचारियों की भीड़ जाजमऊ चुंगी चौराहे पहुंच गई और सड़क जाम करके सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। भीड़ ने सुबह 10.30 बजे कानपुर लखनऊ हाईवे के साथ ही विश्वकर्मा द्वार के पास फ्लाईओवर का भी यातायात रोक दिया। जिससे राजमार्ग पर वाहनों की कतारें लग गई|
बवाल बढ़ता देख कर 15 थानों का पुलिस बल मौके पर। कुछ ही देर में विधायक इरफान सोलंकी व सुहेल अंसारी भी मौके पर पहुंच गए और रमजान तक टेनरियों की बिजली न काटने की बात कही। टीम के न मानने पर सैकड़ों की संख्या में नमाजियों ने सड़क पर ही नमाज पढ़ना शुरू कर दी। मामला बढ़ता ही जा रहा है। मौके पर मौजूद फोर्स लोगों को समझाकर जाम खुलवाने के प्रयास में लगी हुई थी । कानपुर से उन्नाव तक हाईवे पर जाम लग चुका था। बाद में पीएसी भी बुलाई गई। फ्लाईओवर पर लालबंगला और नीचे प्रथम चौराहे तक वाहनों की कतारें लग गईं। वाहनों के अंदर बैठे लोग तेज धूप व गर्मी से बिलबिला उठे। इसमें स्कूली बच्चों के साथ ही तमाम शिक्षक व शिक्षिकाएं भी थीं। मान मनौव्वल के बाद भी जाम न खोलने पर डीएम विजय विश्वास पंत व एसएसपी अनंत देव तिवारी मौके पर पहुंचे और जाम खोलने को कहा।


इस बीच कुछ लोगों ने जाम खोलना चाहा तो भीड़ ने पथराव शुरू कर दिया, जिससे कुछ वाहनों के शीशे भी टूट गए। इसके बाद पुलिस ने लाठी लेकर सभी को खदेड़ा। डीएम व एसएसपी के समझाने पर दोपहर 2.30 बजे जाम खुल सका। डीएम ने कहा कि रमजान तक टेनरियों की बिजली नहीं कटेगी। बंदी का आदेश जारी है, यदि कोई टेनरी चलते पाई गई तो एनजीटी के निर्देशों के तहत कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि बंदी के बाद भी टेनरियों का पानी गंगा में जाने से यूपीपीसीबी ने 225 टेनरियों की बिजली काटने का आदेश दिया है।

Loading...