उरई-पूर्व सांसद अनुरागी ने भाजपा का दामन थामा,

0
49

उरई- पूर्व सांसद घनश्याम अनुरागी ने शनिवार को लखनऊ में भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता स्वीकार कर ली। पूर्व सांसद के बारे में पहले से ही यह चर्चा थी कि वे भाजपा मे शामिल होने वाले हैं। आखिर में आज उन्होंने इन चर्चाओं को सही साबित कर दिया। भाजपा के लिए घनश्याम अनुरागी का पाले में आना उसकी चुनावी संभावनाओं को मजबूती प्रदान करने वाला माना जा रहा है।

हमीरपुर के रहने वाले घनश्याम अनुरागी ने सुरक्षित संसदीय सीट होने के कारण यहां अपना कार्य क्षेत्र बना लिया था। राजनीतिक कुशलता के कारण 2004 के पहले लोकसभा चुनाव में ही उन्होंने समाजवादी पार्टी के बैनर से शानदार प्रदर्शन करने में कामयाबी हासिल की थी। इसके बाद 2009 में उन्होंने इस संसदीय क्षेत्र में समाजवादी पार्टी के खाते में पहली और अभी तक की इकलौती सफलता दर्ज करा दी थी।

बाद में जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव के दौरान हुई गुटबाजी के चलते घनश्याम अनुरागी को सपा से अलग हो जाना पड़ा। इसके बाद वे बसपा में शामिल हो गये थे। बसपा सुप्रीमों मायावती ने पहले उन्हीं का नाम संसदीय चुनाव में प्रत्याशी के बतौर घोषित किया था लेकिन काफी मेहनत करने के बावजूद ऐन मौके पर मायावती ने उनका टिकट बदल दिया। इससे क्षुब्ध घनश्याम अनुरागी राजनीति के लिए नया ठिकाना तलाश रहे थे। आज वे भाजपा के प्रदेश मुख्यालय पर प्रदेश अध्यक्ष डा. महेंद्र नाथ पाण्डेय के सामने पार्टी में शामिल हो गये। उनके भाजपा में चले जाने को विपक्षी खेमे को बड़ा झटका माना जा रहा है।

Loading...