इंडोनेशिया के जावा द्वीप में 6.5 तीव्रता का भूकंप आया जिससे कम से कम दो लोगों की मौत हो गई. एक अधिकारी ने शनिवार को ये जानकारी दी.

यूएस जियोलॉजिकल सर्वे ने बताया कि शुक्रवार को देर शाम जावा द्वीप के सिपातुजा शहर के बाहरी हिस्से में 91 किमी की गहराई पर भूकंप आया.

भूकंप को राजधानी जकार्ता सहित पूरे द्वीप में, केंद्र के आसपास 300 किमी तक महसूस किया गया.

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो पूर्वा नुग्रोहो ने बताया कि भूकंप की वजह से इमारतें ध्वस्त हो गई है. इससे सियामिस में 62 वर्षीय एक पुरूष और पेकालोंगन में 80 वर्षीय एक महिला की मौत हो गई है.

भूकंप के प्रभाव का आकलन जारी है 

नुग्रोहो ने बताया कि ‘कई इलाकों में अस्पताल भी क्षतिग्रस्त हो गए और मरीजों को वहां से हटाना पड़ा.’ पश्चिमी जावा और मध्य जावा प्रांतों में सैकड़ों मकान क्षतिग्रस्त हो गए.

नुग्रोहो ने बताया कि एजेंसी भूकंप के प्रभाव का आकलन कर रही है. लोगों से सतर्क रहने को कहा गया है.

बीते 26 नवंबर को राजधानी बाली में माउंट अगंग ज्वालामुखी सुलग उठी. इसके संभावित विस्फोट के खतरे को देखते हुए इंडोनेशिया सरकार ने आसपास के लोगों को जगह खाली करने का अलर्ट जारी किया था.

इंडोनेशिया की डिजास्टर मैनेजमेंट एजेंसी के मुताबिक ज्वालामुखी से धमाकों की आवाज 12 किलोमीटर तक सुनी जा सकती थी. चोटी से निकलने वाली आग की लपटें रात में देखी जा सकती थी.