भारतीय ओलिंपिक संघ (आईओए) ने अभय चौटाला और सुरेश कलमाडी को आजीवन अध्यक्ष बनाने के अपने फैसले को रद्द कर दिया है.

दिसंबर में आईओए ने चोटाला और कलमाडी दोनों को अपना आजीवन अध्यक्ष चुना था जिसके बाद इस फैसला का काफी विरोध होने लगा, इसी के चलते खेल मंत्रालय ने आईओए को एक कारण बताओ नोटिस भी जारी किया था.

संतोषजनक उत्तर ओलिंपिक संघ दे नहीं पाने के कारण खेल मंत्रालय ने आईओए को तब तक के लिए निलंबित कर दिया था, जब तक संघ अपना फैसला वापस नहीं लेता, जिसके चलते ही संघ ने अपना निर्णय रद्द कर दिया है.

खुद खेलमंत्री विजय गोयल ने भी मीडिया में बयान दिया था कि आईओए द्वारा कलमाडी और अभय चौटाला को सर्वसम्मति से अध्यक्ष बनाए जाने पर हम भी हैरान है. कलमाड़ी और चौटाला दोनों पर ही भष्ट्राचार के आरोप लगे हैं. ऐसे में उनका आईओए का अध्यक्ष बनाए जाने चौंकाने वाला है. गोयल ने कहा कि हम मामले की जांच करेंगे और जल्द ही इस पर उचित कार्रवाई करेंगे.